Read Blog

Welcome to the Blog Society Blog, where creativity and inspiration collide. Your daily dose of news, tips, information and ideas straight to your inbox.

www.rawnasampark.com

केसरसिह सोलकी

""कौन कहता है कि आसमां में सुराख नहीं हो सकता एक पत्थर तबीयत से उच्छालो तो यारों " समाज के सभी सदस्यों के मन में समाज के विकास को लेकर काफी चिंता है, दर्द है पिछडेपन को दूर करने का , संकल्प है विकास का एवं उत्साह है भविष्य निर्माण का । आवश्यकता है सही दिशा ,सामंजस्य एवं आपकी ईच्छाशक्ति की । समाज के सदस्यो द्वारा व्यक्त किए गए विचारों एवं उद्गारों से मेरा यह विश्वास दृढ़ ही नहीं बल्कि मजबूत हुआ है कि सदस्यों द्वारा किए जा रहे प्रयासों के सकारात्मक परिणाम समाज हित में शीघ्र परिलक्षित होंगे । जहां तक मेरे संयोजन एवं मार्गदर्शन में छात्रावास के निर्माण की भावनाएं कई माननीय सदस्यों द्वारा व्यक्त की गई है । मै आप सभी की भावनाओं का सम्मान करते हुए निवेदन करना चाहता हूं कि वर्तमान छात्रावास की कार्यकारिणी एवं पदाधिकारी मेरे निरन्तर सम्पर्क में हैं उनके द्वारा छात्रावास विकास की रणनीति तैयार की जा रही है। बिना किसी औपचारिक पद के मै पूर्व की भांति मेरा पूरा सहयोग देने के लिए सदैव कृतसंकल्प रहूँगा । मेरी अपनी सीमाएं हैं मैं अपनी सीमा में रहते हुए एक अनुशासित सिपाही के रूप में पूर्ण मनोयोग से सहयोग देने के लिए आपको आश्वस्त करना चाहूँगा । छात्रावास निर्माण में सम्पूर्ण समाज की भागीदारी सुनिश्चित करते हुए सभी का योगदान प्राप्त करना है इसके लिए न्यूनतम 100 रूपये से अधिकतम श्रद्धानुसार सहयोग प्राप्त करने पर विचार किया जा रहा है । व्यवस्था को पूरी तरह से पारदर्शी बनाने के लिए आनलाइन भुगतान की भी व्यवस्था की जा रही है । इस सम्बंध में जिला स्तरीय जिम्मेदारी की व्यवस्था का विचार है । इस सम्बंध में विस्तृत कार्ययोजना इस माह में एक बैठक आयोजित कर बनाए जाने का विचार है इस पर सभी के सुझाव प्राप्त कर इसे मूर्त रूप दे दिया जाएगा । ग्रुप के सदस्यों से विनम्रता पूर्वक अनुरोध करना चाहूंगा कि इस ग्रुप के गठन के उद्देश्य को समयबद्ध तरीके से शीघ्र फलीभूत करने की ओर पूरा ध्यान लगावें । क्योंकि सभी विषयों पर एक साथ चर्चा संभव नहीं है एवं न ही किसी निष्कर्ष पर पहुंचा जा सकता है । कुछ माननीय सदस्यों द्वारा की गई post राहत देने का कार्य करती है वहीं बीच बीच में कुछ सदस्यों की टिप्पणियां आहत भी करती है । मुख्य रूप से किसी व्यक्ति, समाज, दल एवं संगठन के विरुद्ध अनर्गल असामयिक टिप्पणियाँ आहत करती है । इस ग्रुप की गरिमा एवं स्वयं के सम्मान को ध्यान में रखते हुए ही टिप्पणी करनी चाहिए । वर्ष 2017 में समाज हित में लिए गए संकल्पों को पूरा करें । आप स्वयं क्या कर रहे हैं ? क्या कर सकते हैं ? इस पर ध्यान दें । दूसरा कौन क्या कर रहा है ? उसे क्या करना चाहिए? वह particular काम क्यों नहीं कर रहा है या कर रहा है, इस पर समय एवं श्रम व्यर्थ नहीं करे । मैं यहां इतना ही निवेदन करना चाहूँगा कि " खुद को ही कर बुलन्द इतना कि खुदा बन्दे से पूछे बता तेरी रजा है क्या " ।"