Read Blog

Welcome to the Blog Society Blog, where creativity and inspiration collide. Your daily dose of news, tips, information and ideas straight to your inbox.

www.rawnasampark.com

डा० केसरसिह सोलकी

"मैं इस ग्रूप में जब से जुडा हू तब से ग्रूप के सदस्यों की चिंता संगठन एवं पद को लेकर ज्यादा महसूस कर रहा हूं । मैंने पहले भी निवेदन किया है पुनः कर रहा हूं कि जिस भी क्षेत्र में कार्यरत हैं वहीं से पहले स्वयं मजबूत बने एवं फिर समाज को मजबूती प्रदान करने के लिए समय प्रदान करे । समाज एवं समाज सेवा हेतु संगठन का नामकरण कर पंजीकरण करा कर बैठक आयोजित कर पदासीन होना एवं पद बांटना ही अंतिम लक्ष्य नहीं होना चाहिए । आप को तय करना होगा कि आप को समाज सेवा करना है अथवा सामाजिक संगठन की सेवा । क्या बिना संगठन में पद धारण किए हुए समाज सेवा नहीं हो सकती ? यदि यह सत्य होता तो मेरा समाज प्रगति में सबसे आगे होता क्योंकि राजस्थान में कम से कम 50 से अधिक रजिस्टर्ड एवं अनरजिस्टर्ड संस्थाएं समाज के बैनर का उपयोग कर रही है । अतः समाज सेवा एवं संगठन में अन्तर समझना होगा । संगठन वहीं सफल होता है जिसकी नीवं धरातल पर होती है अर्थात संगठन की मांग समान विचारधारा के लोगों के द्वारा निःस्वार्थ भाव से एक निश्चित उद्देश्य के लिए की गई हो । उद्देश्य विहीन संगठन /संस्थाओं का हस्र किसी से छिपा हुआ नहीं है । सोचे समझे आगे बढ़े ।"